Skip to main content

Posts

Showing posts with the label Health

Subscribe

* indicates required

You can Translate article here

रोजाना पुशअप्स लगाने से क्या होता हैं?

अपने को मज़बूत बनाए रखने के लिए आवश्यक है कि हम सभी को मतलब महिलाओं एवं पुरुषों को समान रूप से व्यायाम करने की शुरुआत करनी चाहिए। पुश अप्स लगाने के फायदे— 1. कंधे और छाती,बाजुओं को मज़बूती प्रदान करते है - पुश -अप्स से कंधे, छाती और बाज़ुओं की मांसपेशियों में मजबूती आती है। और धीरे-धीरे शरीर लचीला और फुर्तीला हो जाता है। पुश अप्स से शरीर में एक तरह का हार्मोंस स्त्रावित होता है जिससे शरीर में सटैमिना बढ़ जाती है। परिणामस्वरूप ताकत का अनुभव होता है। 2.कमर के दर्द में आराम मिलता है - कभी- कभी अत्यधिक कार्य के परिणाम स्वरूप या दैनिक कार्यों को करने के दौरान शरीर में झटके लग जाते हैं। तो इससे मुक्त होने के लिए पुश अप्स का सहारा लिया जा सकता है। इसके नियमित अभ्यास से कमर दर्द समाप्त हो जाती है। 3. स्ट्रेस से मुक्त- इसके नियमित अभ्यास से रोगों से लड़ने की क्षमता उत्पन्न होती है। मन प्रसन्न रहता है और तनाव से मुक्ति मिलती है जिससे रोगों से लड़ने की क्षमता उत्पन्न होती है।  Source:  Anchala Dutta

विटामिन बी 12 की कमी के बारें में आयुर्वेद की क्या राय है और इस कमी को कैसे दूर करना चाहिए?

विटामिन बी 12 हमारे शरीर के लिए अत्यंत ही आवश्यक है, इसकी कमी से आंखों कम रोशनी, दुर्बलता, पाचन की समस्या, डिप्रेशन तनाव, भूख न लगना, चिड़चिड़पान,याददाश्त में कमी महिलाओं में अनियमित माहवारी व बांझपन जैसी समस्या होती है। या इसे यूं भी कहें की 60 फीसदी से अधिक होने वाला बीमारियों के प्रमुख कारणों में विटामिन बी 12 की कमी ही है। इसे दूर करने के लिए खान पान में जरूरी चीजों को शामिल करें। जैसे- सुबह शाम दूध लें, खाने में चीनी व नमक के साथ दही खायें, सेब औऱ कीवी खायें, ब्रोकली,चेरी व अंकुरित अनाज का भी सेवन भी खाने से शरीर में विटामिन बी 12 की कमी को दूर किया जा सकता है। इन चीजों को खाकर आप स्वस्थ हो सकते हैं।

कम उम्र में हार्ट अटैक आने का क्या कारण है?

Pएक्टर सिद्धार्थ शुक्ला की अचानक हार्ट अटैक से मौत होने के बाद हर कोई स्तब्ध है। सबके दिमाग में यही चल रहा है की सिद्धार्थ शुक्ला बहुत ही फिट था और अपनी सेहत का बहुत ही अच्छी तरह से ध्यान रखता था फिर भी उसे इतनी कम उम्र में हार्ट अटैक कैसे आ गया। पिछले कुछ सालों से हम देख रहे हैं की युवाओं में हार्ट अटैक होने के केसेज बहुत बढ़ रहे हैं। हृदय से जुड़ी बीमारियां बहुत ही कम उम्र में लोगों को पकड़ रही हैं। आंकड़ों के अनुसार हर तीन सेकंड में हार्ट अटैक से एक इन्सान की मृत्यु हो जाती है, और सबसे हैरान कर देने वाली बात ये है की इनमें से 25% लोग 40 साल से कम उम्र के हैं। लेकिन इसका कारण क्या हो सकता है, तो आईए जानते हैं की इतनी कम उम्र में हार्ट अटैक होने का कारण क्या है। क्या होता है हार्ट अटैक हमारे हृदय का मुख्य काम होता है पूरे शरीर को रक्त की आपूर्ति करना। जब किसी कारणवश ह्रदय में रक्त की आपूर्ति में बाधा आती है तो दिल का दौरा पड़ जाता है। हार्ट अटैक को मेडिकल भाषा में मयोकार्डियल इनफ्राकशन भी कहते है। इसका मुख्य कारण ह्रदय के रक्त को ले जाने वाली धमनियों में रुकावट होता है। जि

भीगा चना खाने के क्या फायदे है ?

भीगा हुआ चना खाने से क्लोरोफिल, विटामिन ए, बी, सी, डी और के साथ ही फास्फोरस, पोटैशियम, मैग्नीशियम की जरूरत भी पूरी हो जाती है. इसके अलावा चना फाइबर से भी भरपूर होता है, जो भी पुरुष शारीरिक कमजोरी की समस्या से जूझ रहे हैं वह अपनी डाइट में चने को शामिल कर सकते हैं. Source : Dr. Chanchal Sharma

Push Ups VS Bench Press – Which Is Better Or More Effective?

1. Muscle activation Push Ups and Bench Press mainly do the same thing they target chest, front shoulders, triceps and lats in a pushing motion. However, when doing Bench Press the weight moves and the upper body is stabilised on a bench, which makes it easier to focus on your chest and push more weight. In Push Ups the body is moving instead, so the exercise involves more joint motion and importantly more core activation for stabilisation. 2. Can you replace Bench Press with Push Ups? Getting stronger in Push Ups does not mean your Bench numbers will grow the same way, or vice versa. Bench Press is about absolute strength pushing the most weight possible, whereas Push Up is about relative strength how efficiently you can use your own body-weight. It all depends on your goals, both exercises can make you build muscle, get fitter and look better. 3. Push Ups offer you an accessible way to get results anywhere. It's not easy to progress, but the challenge in learning new variations m

चेहरे पर ग्लो लाने के लिए क्या खाना चाहिए?

दोस्तों आजकल सभी लोग चाहते है की वे खूबसूरत दिखे और लोग उनकी तारीफ करे। कई लड़के लडकिया चाहते है कि उनका चेहरा बेदाग, सुंदर तथा चमकदार और खिलखिलाता हो। सभी चाहते है कि उनके चेहरे पर कभी दाग-धब्बे, निशान, झाइयां, झुरियां ना पड़े। और इसके लिए वे लोग कई तरह के कॉस्मेटिक चीजो का उपयोग करते है जिसकी वजह से उनका चेहरा और भी ज्यादा खराब हो जाता है और वे लोग निराश हो जाते है। दोस्तो चेहरा खराब होने के कई कारण हो सकते है जिनमे से प्रमुख कारण आपको बता देते है। चेहरा खराब होने के कारण:- कड़ी धूप में ज्यादा बाहर निकलना तथा प्रदूषित वातावरण के संपर्क में आने से चेहरा खराब होने लगता है। अनियमित खानपान की वजह से चेहरे पर तेजी नही आती और चमकदार नही दिखता। अधिकमात्रा में तनाव में रहने से चेहरे की खूबसूरती कम हो जाती है। ज्यादा तनावभरी ज़िंदगी से 20 साल का लड़का भी आजकल 35 साल का लगने लगता है। खूबसूरती बढ़ाने के लिए कई तरह के कॉस्मेटिक चीजों का उपयोग करने से चेहरे पर दाग धब्बे आने लगते है। कई बार किसी बीमारियों के कारण जो दवाइया खाई जाती है उससे भी साइड इफेक्ट होते है जिसका परिणाम चेहरे पर भी देखन

Does 20 minutes of exercise make a difference?

In financial investment there is a term called “power of compounding” and it simply refers to growing wealth with time (adding interest on interest). Health + Wealth = Lifestyle You cannot enjoy wealth if you don't take care of your health. To work out 20 minutes a day is much better than not working out at all. Once you start enjoying the process and it becomes a habit you will automatically spend more than 20 minutes. I workout for about 60 minutes everyday and now it has become a habit to workout at least 5 days a week. If I miss going to gym 2 days in a row then I feel something is missing in life as if its incomplete. I don't force myself to go to the gym but its a habit - an act that works by default. 20 minutes of workout in anyform will make a difference provided you do it at least 5 days a week and you treat this as sacrosanct. Hope this helps. :) Source : Mithu Deb

What are the best testosterone supplements ?

As this is the major time of your body as it is at its peak of producing testosterone, and which is why should not bother much about your testosterone levels, instead I would recommend you to follow the following habits strictly and with all your heart to give that extra boost your health and hormones like testosterone and remember when I say I want your to follow these then make sure that you add these things to your lifestyle, 1.Eat Healthy Fats in your diet Fats are the solo nutrients that make and produce hormones in your body from insulin to each and every other hormone in your body is secreted and produced by healthy fats, thus if you are someone who thinks low fat is healthy, you have an answer to that question now, Hence never eliminate good and healhty fats from your diet, make sure you add them in a good amount every day. Some good source of healhty fats that you should add, Desi ghee, White Butter, Full fat Curd, Egg yolks, Avacaods(if available), Dry fruits(almonds, walnuts

सोने से पहले सिर्फ 1 लौंग खाकर पानी पीने से कौन सी बीमारी दूर हो जाएगी?

वैसे तो लौंग को आयुर्वेद में महत्वपूर्ण स्थान दिया गया हैं. Long एंटी-ऑक्सीडेंट, कवकरोधी, जीवाणुरोधी, एंटी-वायरल, एंटी-सेप्टिक, एंटी-इंफ्लेमेटरी और एनाल्जेसिक जैसे उत्तम गुणों से भरपूर हैं. इसके अलावा पोटेशियम, सोडियम, फास्फोरस, लोहा, मैंगनीज, आहार फाइबर, आयोडीन, विटामिन के और सी, ओमेगा -3 फैटी एसिड, कैल्शियम और मैग्नीशियम आदि का भी लौंग एक प्रचुर स्रोत है. जैसे हर व्यक्ति को रात को सोने से पहले 1 लौंग खाकर उसपर 1 गिलास गर्म पानी पीना चाहिए. यह स्वास्थ्य के लिए बहुत ही उतम हैं. इससे कई प्रकार की गंभीर बीमारियों से मुक्ति मिलती हैं. लौंग गैस्ट्रिक रस के स्राव में सुधार लाकर पाचन की प्रक्रिया को सुधारती है. या फिर आपको यह भी बता दें यह पेट की कई परेशानियों में फायदा करती है. जैसे – जलन, गैस, उल्टी और अपच इत्यादि जैसी कई समस्याओं में लौंग बहुत फायदेमंद हैं. इसके अलावा लौंग के सेवन से गला खुल जाता है और छाती में जमा कफ बाहर निकल जाता है. यह पाचक, पित्त नाशक, कुछ उष्ण, वायु रोग नष्ट करने वाला, दमा, बुखार, अपच, हैजा, सिर दर्द, हिचकी और खांसी आदि रोगों में फायदा पहुंचाती हैं.

How Sleep Deprivation Drove One Man Out Of His Mind

In 1959, 32-year old popular radio personality Peter Tripp decided to stay awake for 8 days and nights as part of a publicity stunt aimed at raising money for charity. It was the most daring sleep deprivation ever attempted, and virtually every researcher and physician warned Tripp against the idea. But Tripp was determined, and so on a cold January morning, he placed himself in a glass booth in the middle of Times Square so that curious onlookers and fascinated scientists alike could observe his activity as he went for 201 consecutive hours without sleep. Trip beginning to feel effect of sleep deprivation At first, Tripp seemed to cope well without sleep. He was, after all, considered to be a normal and well-to-do man by his family, friends, and listeners. His initial broadcasts during his experiment were entertaining as he remained cheerful and humorous as usual. By day four, however, Tripp began experiencing terrifying hallucinations, imagining spiders crawling in his sh

सुबह उठ के पहले क्या खाना चाहिए ?

आयुर्वेद के अनुसार, सुबह खाली पेट इन चीजों का सेवन करने से स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा रहता है। सुबह खाली पेट किशमिश खाएं। भीगी हुए किशमिश खाएंगे तो ज्‍यादा फायदेमंद होती है। किशमिश में मौजूद पोषक तत्‍व, स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। गुड़ को बेहद लाभदायक माना गया है। आयुर्वेद के अनुसार, बासी मुंह गुड़ खाना चाहिए। अगर गुड़ के साथ गुनगुना पानी भी हो तो बहुत अच्छा है। शरीर को काफी ऊर्जा मिलती है। इससे खून साफ होता है व कई तरह की बीमारी दूर होती है। इससे पूरे दिन एसिडिटी नहीं होती है। सुबह उठकर खाली पेट लहसुन की कली खाएं। पाचन के लिए तो ये रामबाण है। अगर किसी को पेट फूलने की समस्‍या होती है तो उसके लिये ये काफी फायदेमंद रहेगा। सुबह उठकर भीगे बादाम खाएं। इसमें प्रोटीन, ओमेगा 3 फैटी एसिड, विटामिन ई, कैल्शियम आदि पोषक तत्व होते हैं। बादाम जब भी खाएं इसके छिलके उतारकर खाएं। इससे यह ज्यादा लाभ देती है।

11 amazing facts about the human brain

The human brain isn't actually fully mature until age 25 Scientists think that human brains are actually shrinking over time The human brain is mostly water and dehydration can make it work poorly Your brain can't actually feel pain Extreme dieting may lead your brain to eat itself The part of the brain responsible for memory is significantly larger in taxi drivers The part of your brain that lets you see are actually nowhere near your eyes Contrary to the popular myth, you actually do use most of your brain When musicians play together, their brain waves synchronize Some blind people are able to "see" out of their ears ( It is possible to "see" sounds ) Your brain activity is as unique to you as a fingerprint. Source: Insider

शिलाजीत क्या है और उनके फायदे क्या हैं?

आयुर्वेद के अनुसार, शिलाजीत में 85 तरह के मिनरल्स होते हैं। आयुर्वेद के अनुसार शिलाजीत की उत्पत्ति पत्थर से हुई है। गर्मी के मौसम में सूर्य की तेज गर्मी से पर्वत की चट्टानों के धातु अंश पिघल कर रिसने लगता है। इसी पदार्थ को शिलाजीत कहा जाता है। ज्यादातर लोग शिलाजीत को केवल मर्दानगी बढ़ाने वाली आयुर्वेद औषधि मानते हैं। यह सत्य भी है। शोधों में साबित हो चुका है कि शिलाजीत के सेवन से मर्दाना ताकत को बढ़ाया जा सकता है। यह पुरुष और स्त्री दोनों के लिए फायदेमंद है। इसका सेवन शरीर का बल देकर उसे स्वस्थ, शक्तिशाली तथा पुष्ट बनाना होता है। इसका सेवन महिलाओं के अनियंत्रित मासिक धर्म में फायदेमंद साबित होता है। शिलाजीत शरीर में कैंसर सेल्स को बढ़ने से भी रोकती है। इसका सेवन स्मरण शक्ति को बढ़ाने में भी कारगर सिद्ध होता है। शिलाजीत में न्यूरोप्रोटेक्टिव के गुण मौजूद होते हैं जिस वजह से यह अल्जाइमर रोग में भी लाभकारी साबित होता है। Source : Manisha Jayswal

बाहर निकले हुए पेट को अंदर कैसे करें?

अजनकी दिनचर्या में पर का बाहर निकलना आम बात है। आज के समय में ज्यादा कार्य कंप्यूटर और लैपटॉप पर होता है। जिसके कारण ज्यादा बैठे रहने पड़ता हैं। ज्यादा बैठे रहने से पर बाहर आने की समस्या खड़ी हो जाती हैं। लेकिन अपनी दिनचर्या और खान पीन में कुछ बदलाव करके इस बाहर निकले पेट को अंदर किया का सकता हैं - 1.सुबह सुबह गुनगुने कमी में नींबू और शहद डालकर पिएं । नींबू और शहद पेट को कम करने में बहुत असर दायक है। २.नाश्ते में हल्का नाश्ता ही करे जैसे मूंग,मोठ,चने,बादाम आदि।हल्का नाश्ता पेट के लिए सही रहता है। तला हुआ भोजन कभी नाश्ते में नहीं करे इससे गैस की समस्या हो सकती है। ३.बार बार खाना ना खाए । आवश्यक्ता से कम खाने का अभ्यास करे। खाना खाते समय बीच बीच में पानी का सेवन नहीं करें। खाने में कम से कम एक घंटे बाद पानी पिए। ४. जितना हो सके ठंडा पानी पीने से बचे । संभव हो सके तो गरम पानी पीना शुरू कर दे ।गरम पानी पेट को साफ रखने और पर की गंदगी बाहर निकालने में मदद करता है। ५. जो भी खाए स्वच्छ खाने की कोशिश करे । तले हुए और बाहर के खाए से बचे। इससे शरीर के पोष्टिक आहार मिलता हैं और पेट साफ

युवाओं को उनके स्वास्थ्य के बारे में आपकी क्या सलाह है?

पहले मै अपने बारे में बता दू, ये मै ही हूं जो आज तक कभी gym नहीं गया, कभी प्रोटीन नहीं खाया, कभी 4–5 किलो दूध नहीं पिया, पर किया है तो कठोर परिश्रम और लड़कियों से दूरी बरती है। हालाकि आपको दूरी अपनी teeneage में बरतनी है, क्युकी उस वक्त आपको जिस चीज की आदत पड़ गई, उसी की लत लग जाएगी। ताउम्र के लिए। और नशे से नहीं, नशेड़ी से दूरी बरतना। अब मै बताता हूं, ऐसा कैसे सम्भव है। 1-) अपने को HULK ya THOR समझो, और दिमाग में अपनी एक image बना लो, उसके बारे में सोचते रहो, जब भी खाली टाइम मिले, नहीं तो बेटा पोर्न ही देखोगे, और 61–62 ही करोगे, छत पर जाकर।😉 यहां क्या concept है? दरअसल हमारा दिमाग ऐसा बच्चा है, हुए कोई चीज चाहिए, व्यस्त रहने के लिए, नहीं तो ये अपने enjoyment के शॉर्टकट्स खोजने लगता है। जैसे_ लड़कियों की fingure dkh कर, कुछ कुछ सोचेगा। अगर तभी आप अपने आसपास के किसी रहीस की घर, गाड़ी, बंगले को देखो और खुद से कहो, "देख बेटा एक दिन इससे आगे निकलना है तुझे, फ़ालतू के कामों पर ध्यान मत दे" मै शर्त लगा कर, कह सकता हूं, आपका मोजो तुरन्त शांत हो जयेगा। 2-) आपके हीरो/आइडियल ( स्वामी

256 साल तक जीवित रहे चीन के ली चिंग यूएन (Li Ching Yuen) की लंबी उम्र का राज क्या था?

256 साल के ली चिंग यूयन का जन्म 3 मई 1677 को चीन के कीजियांग जिले में हुआ था और उनकी मौत 6 मई 1933 को हुई थी। ली चिंग की जिंदगी पर एक किताब लिखी गई थी, जिसका नाम 'द सीक्रेट ऑफ ली'। ली चिंग अपने समय में एक आयुर्वेद के डॉक्टर के रूप में प्रसिद्ध थे। कहते हैं कि उसने जीने का मंत्र सीख लिया था। इसलिए वह हमेशा निरोगी और फिट रहे। आओ जानते है उनकी लंबी उम्र का राज क्या था:— ली चिंग यूयन को जब उनकी लंबी उम्र के राज के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा:— "व्यक्ति को कुत्ते जैसी नींद लेनी चाहिए। कबूतर की तरह बिना आलस के चलते रहना चाहिए। कछुए की तरह आराम से बैठना चाहिए। अपने दिल को हमेशा शांत रखना चाहिए।" वह रोजाना किगोंग (Qigong) नामक कसरत करते थे और इसकी तकनीक में बहुत कुशल थे। मन की शांति और बेहतरीन श्वास को लंबी उम्र का राज मानते थे। वह इस बात को भली-भांति जानते थे कि ज़िंदगी में व्यायाम और डाइट का बहुत बड़ा हाथ होता है। वो मन और तन की शांति को लंबी उम्र तक जीने का सबसे बड़ा राज मानते थे। वह कई तरह की जड़ी-बूटियों के साथ-साथ चावल से बनी शराब को भोजन के रूप में लेते थे। वह अपना

30 की उम्र में लड़के गंजे क्यों हो रहे हैं?

30 की उम्र में लड़को में गंजापन कुछ विशेष कारणों की वजह से होता है। आइए उन कारणों के बारे में जाना जाए - आजकल के बिजी लाइफस्टाइल और गलत खानपान की वजह से 30 की उम्र में लड़कों में गंजेपन की समस्या हो जाती है। इसके अलावा गर्म पानी से शॉवर लेने से भी बाल बहुत ज्यादा झड़ने लगते है। इससे स्कैल्प को काफी नुकसान होता है। गर्म पानी स्कैल्प के नेचुरल ऑयल को कम कर स्किन को ड्राई बना देता है। शराब पीने और धूम्रपान करने से भी बाल तेजी से झड़ते है। सिगरेट और शराब में मौजूद टॉक्सिन बालों को काफी नुकसान पहुचाते हैं। फैशन के चक्कर में लड़के बालों में तेल नहीं लगाते हैं। जिससे 30 की उम्र तक जाते जाते गंजेपन की समस्या दिखाई देने लगती है। गंजेपन की समस्या का एक अन्य महत्वपूर्ण कारण अत्यधिक तनाव लेना भी है। अत्यधिक स्ट्रेस लेने से भी बाल तेजी से झड़ने लगते हैं जिससे कुछ ही दिनों में गंजेपन की नौबत तक आ जाती है।

शहद में डुबा हुआ लहसुन सुबह खाली पेट खाना स्वास्थ्य के लिए इतना लाभकारी क्यों माना जाता है?

शहद में डुबा हुआ लहसुन खाली पेट खाना स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभकारी माना गया है। आओ जानते हैं:— शहद में डुबे हुए लहसुन की 2-3 कलियों को सर्दियों के दिनों में खाली पेट खाने से शारीरिक कमजोरी हमेशा के लिए ठीक हो जाती है और बड़ी हुई चर्बी भी कम होती है। यह सेक्सुअल लाइफ को प्रभावित करता है और सकारात्मक असर दिखाता है। इसका सेवन करने से असमय ही बुढ़ापे का शिकार होने से बचा जा सकता है। बुढ़ापे का अर्थ है कि धमनियों को सिकुड़ कर रोग-ग्रसत हो जाना। यह धमनियों को सिकुड़ने से बचाता है और जमे हुए कोलेस्ट्रॉल को बाहर निकाल पुनः ठीक कर देता है। शहद में डूबे हुए लहसुन में भरपूर मात्रा में ऐसे तत्व पाए जाते हैं जिसके सेवन करने से शरीर में गर्मी आती हैं। जिससे सर्दी-जुकाम जैसी समस्या से निजात पाई जा सकती है और साइनस की समस्या भी काफी कम हो जाती है। शहद में डुबे लहसुन में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते है जिससे गले में खराश और सूजन से राहत मिलती है। अस्‍थमा रोगियों के लिए तो लहसुन और शहद किसी वरदान से कम नहीं है। शहद में डूबा हुआ लहसुन हार्ट से सम्बंधित लोगों के लिए बहुत ही लाभकारी माना गया है। इसके क

प्रतिदिन व्यायाम करते समय हम कौन-कौन सी गलतियां करते हैं?

ऐसे बहुत से लोग हैं जो व्यायाम करते वक्त या फिर व्यायाम से पहले या बाद में बहुत ही गलतियां करते हैं तो चलिए उन गलतियों के बारे में जानते हैं। खाली पेट व्यायाम करना :यह सबसे बड़ी गलती है। कभी भी खाली पेट व्यायाम नहीं करना चाहिए। खाली पेट में जिम करने से आपको और ज्यादा वीकनेस होती है। कुछ लोग जो वजन कम करना चाहते हैं,वह सोचते हैं कि खाली पेट व्यायाम करने से उनका वजन जल्दी कम होगा लेकिन ऐसा नहीं है। 2.व्यायाम करने के बाद कोई अच्छी मील ना लेना। ऐसे बहुत से लोग हैं जो व्यायाम करने के बाद कुछ अच्छा पोष्टिक आहार नहीं लेते ।प्रोटीन शेक या फिर प्रोटीन का आहार जैसे कि अंडा इत्यादि नहीं खाते जिससे उन्हें अच्छी रिकवरी नहीं होती और मनचाहे रिजल्ट नहीं मिलते। अब बात करते हैं कि जिम में लोग कौन-कौन सी गलतियां करते हैं? जिम में लोग बहुत ही ऐसी गलतियां करते हैं। जीने नहीं करना चाहिए जैसे की *पहले दिन से जाकर क्षमता से अधिक भार उठाने लगते हैं। * स्ट्रैचिंग किए बिना ही व्यायाम करने लगते हैं जो कि नहीं करना चाहिए। बिना स्ट्रैचिंग के आपको इंजरी हो सकती है या फिर स्ट्रेच मार्क्स आ सकते हैं। *ईगो वर्क आउट

फिट रहने के क्या तरीक़े हैं?

स्वस्थ रहने के लिए संतुलित खान - पान और नियमित दिनचर्या का पालन करना बहुत जरूरी है | खान - पान और दिनचर्या का स्वास्थ्य से सीधा सम्बन्ध है | आज हम कुछ सामान्य सी छोटी - छोटी ऐसी बातों को जानेंगे, जिनका पालन करके हमेशा स्वस्थ रह सकते हैं | ➤ प्रातःकाल सूर्योदय से पहले हर हाल में उठ जाएँ | देर तक सोना सेहत के लिए ठीक नहीं है | ➤ सुबह उठते ही बासी मुँह आधा से एक लीटर गुनगुना पानी पिएँ | उसके बाद शौंच के लिए जाएँ | ➤ आधे से एक घंटे प्रतिदिन सुबह - शाम टहलने की आदत डालें | नियमित रूप से आधे से एक घंटे योग, प्राणायाम और व्यायाम करें | ➤ रात का खाना सोने से डेढ़ - दो घंटे पहले अवश्य खा लें और खाने के बाद कुछ देर धीरे - धीरे चहलकदमी करें | ➤ भोजन में मौसम के ताजे फल और हरी सब्जियों को अवश्य शामिल करें | भरपूर मात्रा में सलाद का सेवन करें | सलाद स्वच्छ और ताजी कटी हुई हो | ➤ खाना खाने के बाद थोड़ा सा गुड़ खाएँ | ➤ बिना छाने हुए चोकरयुक्त आटे की रोटी खाएँ | चोकर में फाइबर अधिक होता है | ➤ हमेशा अपनी भूख से दो निवाले कम खाएँ और हो सके तो सप्ताह में एक दिन उपवास रखें | ➤ भोजन ताजा, हल्का और सुपाच्य

Past Trending Posts