Advertisement

Advertisement

Showing posts with label students. Show all posts
Showing posts with label students. Show all posts

Monday, September 21, 2020

जीवन के चमत्कारी रहस्य क्या हैं ?

आदमी कितना जीता है? 70 या 80 साल। बहुत अच्छी सेहत हुई तो 100 साल। इन 100 वर्षों में वह प्रारंभिक 25 वर्ष तो संसार, खुद को समझने और करियर बनाने में ही लगा देता होगा। अगले 25 वर्ष वह गृहस्थ जीवन के संघर्ष में गंवा देता होगा और अंत में सोचता होगा कि अब जिया जाए या शायद सोचता होगा कि अब सुकून से जीना चाहता हूं? हालांकि यह सोच काल और परिस्थिति के अनुसार सभी की अलग-अलग हो सकती है।

आजकल जीवन प्रबंधन के बारे में भी बहुत सुनने को मिलता है, लेकिन कितने लोग हैं, जो अपने जीवन का प्रबंधन कर सकते हैं? क्या सचमुच जीवन प्रबंधन करने के बाद जीवन वैसे ही चलता है? हालांकि उपरोक्त लिखी गईं सभी बातें व्यर्थ हैं। हम आपको बताएंगे कि किस तरह आपका जीवन संचालित होता है और आखिर क्या है जीवन का सही रहस्य। हम आपको जीवन रहस्यों के बारे में बता रहे हैं। उस पर आप अकेले में गंभीरता से विचार करना तो हो सकता है कि वह आपको समझ में आ जाए। हालांकि अधिकतर लोग पहले से ही समझदार हैं। हम उन्हें क्या समझाएं, वे दिनभर फेसबुक, ब्लॉग और ट्विटर पर अपने ज्ञान को प्रदर्शित करते ही रहते हैं।

निरोगी काया : यदि आप स्वस्थ हैं तो ही आपका जीवन है। अस्वस्थ काया में जीवन नहीं होता। व्यक्ति 4 कारणों से अस्वस्थ होता है : पहला मौसम-वातावरण से, दूसरा खाने-पीने से, तीसरा चिंता-क्रोध से और चौथा अनिद्रा से।

मौसम और वातावरण आपके वश में नहीं, लेकिन घर और वस्त्र हों ऐसे कि वे आपको बचा लें। घर को आप वस्तु अनुसार बनाएं। हवा और सूर्य का प्रकाश भीतर किस दिशा से आना चाहिए, यह तय होना चाहिए ताकि वह आपकी बॉडी पर सकारात्मक प्रभाव डाले।

खाना-पीना आपके हाथ में है अत: उत्तम भोजन और उत्तम जल जरूरी है। हर तरह के नशे से दूर रहने की बात भी आप जानते ही होंगे। आहार के साथ उपवास भी जरूरी है। उपवास के लिए विशेष दिन और माह नियुक्त हैं।

चिंता और क्रोध करने की भी आदत हो जाती है शराब पीने की तरह। मनोवैज्ञानिक कहते हैं कि नशा करके व्यक्ति चिंता में तो हो ही जाता है और वह चिड़चिड़ा भी हो जाता है। ये दोनों ही आदतें आपके शरीर को जल्द से जल्द बूढ़ा बना देंगी और साथ ही आप अपने परिवार को भी खो देंगे।

अब जहां तक चौथे कारण का सवाल है, ऐसे में कहना होगा कि उपरोक्त तीन है तो चौथा हो ही जाएगा। उत्तम नींद संजीवनी दवा के समान होती है। मानसिक द्वंद्व, चिंता, दुख, शोक, अनावश्यक बहस, अनावश्यक विचार आदि सभी से श्वासों की गति अनियंत्रित हो जाती है जिसके चलते नींद उड़ जाती है। इससे मुक्ति का सरल उपाय है प्राणायाम और ध्यान। हालांकि आप और कुछ भी कर सकते हैं।

आपने दुनियाभर की किताबें पढ़ी होंगी या घर में रखी होंगी, लेकिन क्या आपके घर में ऐसी किताबें हैं, जो आपको सेहतमंद और चिंत्तामुक्त बने रहने के उपाय बताती हों? जीवनभर आपने स्कूल और कॉलेज में जो पढ़ा है और कठिन मेहनत करके जो कमाया है, वह अस्पताल में जाकर सब व्यर्थ सिद्ध हो जाने वाला है।

आपको घर में रखना चाहिए घरेलू नुस्खों की कई किताबें, आयुर्वेद और योग से संबंधित किताबें, सीडी आदि। इसके अलावा सबसे जरूरी वे किताबें है जिनके माध्यम से आपको आपके शरीर और दवाओं का ज्ञान होता हो। आपके शरीर के भीतर के अंग कौन-कौन-से हैं और वे किस तरह कार्य करते हैं और उन्हें कौन-से भोजन और व्यायाम की जरूरत है, यह भी जानना जरूरी है। हालांकि आप फेसबुक पर चलने वाली व्यर्थ की बातें जानने में ज्यादा उत्सुक रहते होंगे?

चाहें तो योग करें, पैदल चलें, तैराकी करें या कसरत करें। 24 घंटे में से 1 घंटा शरीर को स्वस्थ रखने के लिए देना चाहिए। जिस शरीर में आपको 70-80 साल रहना है, निश्‍चित ही आप उसके लिए कुछ तो करेंगे। यदि यह नहीं कर पाएं तो कम से कम उसके भीतर कचरा तो मत डालिए।

जेब में हो माया : हमारे ऋषि-मुनि कह गए हैं, 'पहला सुख निरोगी काया, दूसरा सुख जेब में हो माया।' धन कमाना जीवन में बहुत जरूरी होता है और सभी यह कार्य करते भी हैं। कुछ लोग कड़ी मेहनत करके धन कमाते हैं और कुछ लोग स्मार्ट वर्क करके धन कमाते हैं। धन कमाने के अच्छे रास्ते भी हैं और बुरे भी।

अच्छे रास्ते से कमाया गया धन ही आपके जीवन को संतुष्ट कर सकता है अन्यथा आप शायद नहीं जानते हैं कि बुरे रास्ते का धन बुराई में ही समाप्त हो जाता है। ऐसे लोग जेलखाने, दवाखाने या पागलखाने में ही मिलते हैं।

धनवान बनने के गुप्त रहस्य के बारे में जानने से अच्छा है कि आप प्रैक्टिकल तरीके से इसके बारे में सोचें। हालांकि लोग कहते हैं कि अपार धन कमाने का कोई शॉर्टकट नहीं होता और सारे शॉर्टकट मार्ग जेल में जाकर ही खत्म होते हैं। लेकिन यह भी सही है कि आपका मार्ग सही है, तो उसे शॉर्टकट बनाया जा सकता है।

आपकी योग्यता ही सबसे बड़ी दौलत है। आप जितने योग्य और कार्यकुशल होंगे, आपके मार्ग की बाधाएं समाप्त होती जाएंगी। धन कमाने के शॉर्टकट मार्ग वे ही लोग ढूंढते हैं, जो अयोग्य हैं। आप सीखें वह सब कुछ जिसके माध्यम से धन कमाया जा सकता है। योग्य व्यक्ति की संसार को जरूरत है।

जैसी सोच, वैसा भविष्य : भगवान बुद्ध कहते हैं कि आज आप जो भी हैं, वह आपके पिछले विचारों का परिणाम है। विचार ही वस्तु बन जाते हैं। इसका सीधा-सा मतलब यह है कि हम जैसा सोचते हैं, वैसे ही भविष्य का निर्माण करते हैं। यही बात 'दि सीक्रेट' में भी कही गई है और यही बात धम्मपद, गीता, जिनसूत्र और योगसूत्र में कही गई है। इसे आज का विज्ञान 'आकर्षण का नियम' कहता है।

संसार को हम पांचों इंद्रियों से ही जानते हैं और कोई दूसरा रास्ता नहीं। जो भी ग्रहण किया गया है, उसका मन और मस्तिष्क पर गहरा प्रभाव पड़ता है। उस प्रभाव से ही 'चित्त' निर्मित होता है और निरंतर परिवर्तित होने वाला होता है। इस चित्त को समझने से ही आपके जीवन का खेल आपको समझ में आने लगेगा। अधिकतर लोग अब इसे समझकर अच्‍छे स्थान, माहौल और लोगों के बीच रहने लगे हैं। वे अपनी सोच को बदलने के लिए ध्यान या पॉजिटिव मोटिवेशन की क्लासेस भी जाने लगे हैं।

वैज्ञानिक कहते हैं कि मानव मस्तिष्क में 24 घंटे में लगभग 60,000 विचार आते हैं। उनमें से ज्यादातर नकारात्मक होते हैं। नकारात्मक विचारों का पलड़ा भारी है तो फिर भविष्य भी वैसा ही होगा और यदि ‍मिश्रित विचार हैं तो मिश्रित भविष्य होगा। अधिकतर लोग नकारात्मक फिल्में, न्यूज, सीरियल और गाने देखते रहते हैं इससे उनका मन और मस्तिष्क वैसा ही निर्मित हो जाता है। वे गंदे या जासूसी उपन्यास पढ़कर भी वैसा ही सोचने लगते हैं। आजकल तो इंटरनेट हैं, जहां हर तरह की नकारात्मक चीजें ढूंढी जा सकती हैं। न्यूज चैनल दिनभर नकारात्मक खबरें ही दिखाते रहते हैं जिन्हें देखकर सामूहिक रूप से समाज का मन और मस्तिष्क खराब होता रहता है।

जैसी मति, वैसी गति : 3 अवस्थाएं हैं- 1. जाग्रत, 2. स्वप्न और 3. सुषुप्ति। उक्त 3 तरह की अवस्थाओं के अलावा हमने और किसी प्रकार की अवस्था को नहीं जाना है। जगत 3 स्तरों वाला है- एक, स्थूल जगत जिसकी अनुभूति जाग्रत अवस्था में होती है। दूसरा, सूक्ष्म जगत जिसका हम स्वप्न में अनुभव करते हैं तथा तीसरा, कारण जगत जिसकी अनुभूति सुषुप्ति में होती है।

उक्त तीनों अवस्थाओं में विचार और भाव निरंतर चलते रहते हैं। जो विचार धीरे-धीरे जाने-अनजाने दृढ़ होने लगते हैं और वे धारणा का रूप धर लेते हैं। चित्त के लिए अभी कोई वैज्ञानिक शब्द नहीं है लेकिन मान लीजिए कि आपका मन ही आपके लिए जिन्न बन जाता है और वह आपके बस में नहीं है, तब आप क्या करेंगे?

धारणा बन गए विचार ही आपके स्वप्न का हिस्सा बन जाते हैं। आप जानते ही हैं कि स्वप्न तो स्वप्न ही होते हैं, उनका हकीकत से कोई वास्ता नहीं फिर भी आप वहां उस काल्पनिक दुनिया में उपस्थित होते हैं।

इसी तरह बचपन में यदि यह सीखा है कि आत्मा मरने के बाद स्वर्ग या नर्क में जाती है और आज भी आप यही मानते हैं तो आप निश्‍चित ही एक काल्पनिक स्वर्ग या नर्क में पहुंच जाएंगे। यदि आपके मन में यह धारणा बैठ गई है कि मरने के बाद व्यक्ति कयामत तक कब्र में ही लेटा रहता है, तो आपके साथ वैसा ही होगा। हर धर्म आपको एक अलग धारणा से ग्रसित कर देता है। हालांकि यह तो एक उदाहरण भर है। धर्म आपके चित्त को एक जगह बांधने के लिए निरंतर कुछ पढ़ने या प्रार्थना करने के लिए कहता है ताकि आप समूह के आकर्षण में बंधकर उसे ही सच मानने लगो।

वैज्ञानिकों ने आपके मस्तिष्क की सोच, कल्पना और आपके स्वप्न पर कई तरह के प्रयोग करके जाना है कि आप हजारों तरह की झूठी धारणाओं, भय, आशंकाओं आदि से ग्रसित रहते हैं, जो कि आपके जीवन के लिए जहर की तरह कार्य करते हैं। वैज्ञानिक कहते हैं कि भय के कारण नकारात्मक विचार बहुत तेजी से मस्तिष्क में घर बना लेते हैं और फिर इनको निकालना बहुत ही मुश्किल होता है।

जाति स्मरण : हालांकि यह एक ऐसी बात है जिस पर आप ध्यान न भी देंगे तो भी आपके जीवन पर कोई प्रभाव नहीं पड़ने वाला है, लेकिन ऐसी भी जानकारी होना चाहिए इसीलिए इसे यहां लिखा जा रहा है।

हमारा संपूर्ण जीवन स्मृति-विस्मृति के चक्र में फंसा रहता है। आप खुद या दूसरों को भी यादों के माध्यम से ही जान पाते हों। उम्र के साथ स्मृति का घटना शुरू होता है, जो कि एक प्राकृतिक प्रक्रिया है अगले जन्म की तैयारी के लिए।

यदि मोह-माया या राग-द्वेष ज्यादा है, तो समझो स्मृतियां भी मजबूत हो सकती हैं। व्यक्ति स्मृति-मुक्त तभी होता है जबकि प्रकृति उसे दूसरा गर्भ उपलब्ध कराती है, लेकिन पिछले जन्म की सभी स्मृतियां बीज रूप में कारण शरीर के चित्त में संग्रहीत रहती हैं। विस्मृति या भूलना इसलिए जरूरी होता है कि यह जीवन के अनेक क्लेशों से मुक्ति का उपाय है।

कैसे जानें पूर्व जन्म को : योग में पूर्व जन्म ज्ञान सिद्धि योग के बारे में विस्तार से बताया गया है। इसे जाति स्मरण का प्रयोग भी कहा जाता है। इस योग की साधना करने से व्यक्ति को अपने अगले-पिछले सारे जन्मों का ज्ञान होने लगता है। योग कहता है कि ‍सर्वप्रथम चित्त को स्थिर करना आवश्यक है तभी इस चित्त में बीज रूप में संग्रहीत पिछले जन्मों का ज्ञान हो सकेगा। चित्त में स्थित संस्कारों पर संयम करने से ही पूर्व जन्म का ज्ञान होता है। चित्त को स्थिर करने के लिए सतत ध्यान क्रिया करना जरूरी है।

ध्यान को जारी रखते हुए आप जब भी बिस्तर पर सोने जाएं, तब आंखें बंद करके उल्टे क्रम में अपनी दिनचर्या के घटनाक्रम को याद करें। जैसे सोने से पूर्व आप क्या कर रहे थे? फिर उससे पूर्व क्या कर रहे थे? तब इस तरह की स्मृतियों को सुबह उठने तक ले जाएं।

दिनचर्या का क्रम सतत जारी रखते हुए 'मेमोरी रिवर्स' को बढ़ाते जाएं। ध्यान के साथ इस जाति स्मरण का अभ्यास जारी रखने से कुछ माह बाद जहां मेमोरी पॉवर बढ़ेगा, वहीं नए-नए अनुभवों के साथ पिछले जन्म को जानने का द्वार भी खुलने लगेगा।

स्वाध्याय : स्वाध्याय का अभ्यास आपको मनचाहा भविष्य देता है। स्वाध्याय का अर्थ है स्वयं का अध्ययन करना, अच्छे विचारों का अध्ययन करना और इस अध्ययन का अभ्यास करना।

आप स्वयं के ज्ञान, कर्म और व्यवहार की समीक्षा करते हुए पढ़ें वह सब कुछ जिससे आपके जीवन में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता हो, साथ ही आपको इससे खुशी ‍भी मिलती हो। तो बेहतर किताबों को अपना मित्र बनाएं।

जीवन को नई दिशा देने की शुरुआत आप छोटे-छोटे संकल्प से कर सकते हैं। संकल्प लें कि आज से मैं बदल दूंगा वह सब कुछ जिसे बदलने के लिए मैं न जाने कब से सोच रहा हूं। अच्छा सोचना और महसूस करना स्वाध्याय की पहली शर्त है।

ईश्वर प्राणिधान : वेद कहते हैं कि सिर्फ एक ही ईश्वर है जिसे ब्रह्म या परमेश्वर कहा गया है। इसके अलावा और कोई दूसरा ईश्वर नहीं है। ईश्वर निराकार है, यही अद्वैत सत्य है। ईश्वर प्राणिधान का अर्थ है- ईश्वर के प्रति पूर्ण समर्पण, ईश्वर के प्रति पूर्ण विश्वास। न देवी, न देवता, न पीर-फकीर, न ज्योतिष और न ही गुरु घंटाल। यदि आप मर्द हो तो राहू, केतु या शनि से डरने की जरूरत नहीं। हाथ की अंगूठियां और गले का ताबीज निकालकर फेंक दें। वेद कहते हैं कि असुरक्षा से ही जीवन पैदा होता है और आत्मा बलवान बनती है।

एक ही ईश्वर के प्रति अडिग रहने वाले के मन में दृढ़ता आती है। यह दृढ़ता ही उसकी जीत का कारण है। चाहे सुख हो या घोर दुःख, उसके प्रति अपनी आस्था को डिगाएं नहीं। इससे आपके भीतर पांचों इन्द्रियों में एकजुटता आएगी और लक्ष्य को भेदने की ताकत बढ़ेगी। वे लोग जो अपनी आस्था बदलते रहते हैं, भीतर से कमजोर होते जाते हैं।

विश्वास रखें सिर्फ 'ईश्वर' में, इससे बिखरी हुई सोच को एक नई दिशा मिलेगी और जब आपकी सोच सिर्फ एक ही दिशा में बहने लगेगी तो वह धारणा का रूप धर उसकी तस्वीर ब्रह्मांड में ईश्वर के पास पहुंच जाएगी। ईश्वर उस तस्वीर को मूर्तरूप देकर आपके पास लौटा देगा। ब्रह्मांड में दूरस्थ स्थित ब्रह्म ही सत्य है।

अभ्यास :

करत-करत अभ्यास के जड़मति होत सुजान।

रसरी आवत-जात के, सिल पर परत निशान।।

अभ्यास के बल पर मूर्ख भी बुद्धिमान हो जाता है, अज्ञानी भी ज्ञानी हो जाता है। इतिहास साक्षी है कि अभ्यास एवं परिश्रम के बल पर असंभव दिखाई देने वाले कार्य भी संभव हो जाते हैं। ऋषि-मुनियों की सिद्धियां, वैज्ञानिकों के आविष्कार, राजाओं की विजय गाथाएं- सब इसी का प्रमाण हैं कि यदि मनुष्य हिम्मत न हारे और निरंतर अभ्यास और प्रयास करता रहे तो फिर 'असंभव' शब्द के लिए कहीं स्थान नहीं। बार-बार एक ही काम को कर उसमें निपुण होने का प्रयास ही अभ्यास है।

अभ्यास एक ऐसा माध्यम है जिससे कठिन से कठिन कार्य में कुशलता पाई जा सकती है। जीवन में आप जो भी अच्छा जानते हैं और करना चाहते हैं, उसका अभ्यास करते रहिए। जीवन में अभ्यास की लगातार जरूरत पड़ती रहती है।

आप यदि शुरुआत में प्रतिदिन मन मारकर रोज 6 बजे उठते हैं तो कुछ दिनों बाद 6 बजे उठने का आपको अभ्यास हो जाता है। बाद में यदि आप न भी उठेंगे तो आपकी नींद ठीक 6 बजे ही खुल जाएगी। इसी तरह जन्म और मृत्यु आपके अभ्यास का ही परिणाम है। जिंदगीभर आप किस तरह जिए? अनुशासन में जिये या कि अराजक तरीके से? आपके इस तरीके के अभ्यास से ही आपकी मृत्यु होगी अर्थात अंत में परिणाम निकलेगा। अच्छे अंत से अच्छी शुरुआत भी होती है और अच्छी शुरुआत से अच्छा अंत।

जन्म और मृत्यु के रहस्य को समझना है, तो आप वर्तमान में जी रहे जीवन को समझें। आपकी आदतें, कर्म, अभ्यास, विचार आदि सभी चित्त में इकट्ठे हो रहे हैं। सभी के सम्मिलित प्रभाव से ही परिणाम निकलेगा। आपकी नींद खुलने का जब समय होता है, अधिकतर मौके पर तब ही आपके जन्म लेने का समय होगा इसलिए अभ्यास के महत्व को समझें। पुराने लोग अपनी दिनचर्या को सुधारते थे और उसी के अनुसार जीवन-यापन करते थे।

अभ्यास का महत्व समझें। अभ्यास व्यक्ति को परिपूर्ण और योग्य बनाता है। ऑफिस में, घर में या अन्य कहीं पर भी आप कोई-सा भी कार्य कर रहे हैं, उसे मन लगाकर करना जरूरी है। कोई-सा भी कर्म खाली नहीं जाता है। अभ्यास का अर्थ है- एक ही प्रक्रिया को बार-बार, निरंतर दोहराना। दोहराने की इस प्रक्रिया के चलते त्रुटियां होने की गुंजाइश समाप्त हो जाती है। अच्छा अभ्यास करें।

सांप्रदायिकता और साम्यवाद से बचें : ये दोनों ही तरह की विचारधाराएं जीवन और देश विरोधी हैं। यदि आप अपने जीवन, अपने परिवार और अपने देश से प्यार करते हैं तो इन घातक विचारधाराओं से बचें। आपके द्वारा फैलाई गए सांप्रदायिक विचार से देश का भला नहीं होगा। आप धार्मिक विचार फैलाने के लिए स्वतंत्र हैं। धार्मिक होना और सांप्रदायिक होना दोनों अलग-अलग बातें हैं। धार्मिक बनने के लिए कथित रूप से किसी धर्म, संप्रदाय या संगठन की जरूरत नहीं होती। संगठन विचारधाराओं के होते हैं। धर्म और साम्यवाद एक ही सिक्के के दो पहलू हैं।

विचारधाराएं दो तरह की होती हैं- एक भ्रमपूर्ण और दूसरी स्पष्ट। स्पष्ट विचारधारा में कायदे, हुक्म और पाबंदियां होती हैं, जबकि भ्रमपूर्ण विचारधारा खुद को लोकतांत्रिक और सहिष्णु मूल्यों को प्रस्तुत कर लोगों को कन्फ्यूजन और निर्णयहीनता की स्थिति में डाल देती है। ऐसे व्यक्ति के मन में अराजक और कमजोर विचार होते हैं। कन्फ्यूज मस्तिष्क में दृढ़ता नहीं, भय और शंका ही हो सकती है।

साम्यवादी विचारधारा अमीर और गरीबों के नाम पर उनके बीच एक साफ लकीर खींचकर लोगों को लोगों के खिलाफ खड़ा करती है। इस तरह से यह विचारधारा इस बात का एहसास दिलाती है कि वे एक एलीट-ग्रुप का हिस्सा हैं, जो दुनिया को बचाने का काम कर रहे हैं। दुनिया तभी बचेगी, जब सभी लोग समान हो जाएंगे। इस विचारधारा में आदमी मानसिक गुलाम होता है जिस पर वह गर्व करता है। गुलाम बनने में गर्व महसूस करवाना ही इस विचारधारा का उद्देश्य रहता है। लोगों को गरीब बनाकर रखने में ही इस विचारधारा का फायदा है। साम्यवाद व्यक्ति स्वतंत्रता के खिलाफ है।

खुशी और चाहत : सफल व्यक्ति वे होते हैं, जो अपने जीवन में कुछ अच्‍छा चाहते हैं। अच्छा चाहने के लिए खुश रहना जरूरी है। यदि आपके जीवन में आपने जो चाहा, वह अभी तक मिला नहीं है तो आप उदास और निराश रहने लगेंगे जबकि ऐसा करने से आपने जो चाहा है, उसका पास आना और मुश्किल हो जाता है। खुशी और चाहत दोनों एक-दूसरे की पूरक हैं। हमेशा खुश रहना सीखें। अभ्यास से यह संभव हो सकता है।

खुश रहेंगे तो आप जीवन में जो भी सहज रूप से चाहेंगे, वह मिलता जाएगा। अत: खुशी-खुशी सपने देखो, अपना लक्ष्य बनाओ, उसके लिए योजना बनाओ और कार्य करो। कार्य करते रहो, करते रहो और करते रहो। परिणाम की चिंता मत करो।

यदि परिणाम मनचाहा नहीं मिल रहा है ‍तो पता करें कि वह कौन-सी चीज है, जो आपको पीछे की तरफ खींच रही है फिर उससे अपना पीछा छुड़ाएं। पहले आप अपनी बाधा को हटाएं।

जानकारी ही बचाव है : कुछ ऐसे विषय हैं जिनके बारे में जानते रहना चाहिए, क्योंकि वे सभी के जीवन से जुड़े हुए विषय हैं जैसे कि दवाई, डॉक्टर, आयुर्वेद, टेक्नोलॉजी, संचार माध्यम, इंटरनेट, टैक्स, कानून, समाज, धन, यात्रा, ट्रैवल कंपनी, होटल, लॉज, तीर्थ स्थल, पर्यटन स्थल, धर्म, इतिहास, अंतरराष्ट्रीय राजनीति, स्कूल, अस्पताल, शिक्षा, ऑफिस कार्य, शहर, भाषा, संस्कृति, शादी, समारोह, सरकारी सुविधाएं, जंगल, जानवर, समुद्र, पहाड़, नदी, गांव, किसी के द्वारा दी गई जानकारी, टिप्स, खास वाक्य, दोस्त, रिश्तेदार, नए कपड़े, किराने का सामान आदि ऐसी सैकड़ों बातें हैं।


Source : Shivam Sharma

Sunday, September 20, 2020

Friday, September 18, 2020

लोग आपका सम्मान क्यों नहीं करते ?

  1. जब आप लोगों के लिए ज्यादा उपलब्ध रहने लगते हैं तो लोग आपका सम्मान करना छोड़ देते हैं
  2. जब आप लोगों से बहुत ही ज्यादा समझदारी और प्यार से बात करते हैं तो लोग आप का मजाक बनाने लगते हैं
  3. जब हमारे पास पैसे नहीं होते
  4. जब तक हम अपने जीवन में कुछ कर नहीं लेते लोग आपका सम्मान नहीं करेंगे
  5. लोगों के साथ बदतमीजी से बात करना
  6. जब आप लोगों से चिपकना शुरू कर देते हैं तो लोग आपको अपने आप से दूर करने की कोशिश करने लगते हैं
  7. आपके पास कोई हुनर ना होना आज के समय में ऐसे व्यक्ति की इज्जत की जाती है जिसके पास कोई अपना हुनर हो
  8. जब आप मोटे पतले या फिर अच्छे नहीं दिखते तो लोग आपका मजाक बनाते हैं
  9. जब आप अच्छे कपड़े नहीं पहनते हैं
  10. जब आप लोगों से किसी भी स्थान में पीछे होते हैं तो वह आपका मजाक बनाते हैं

मुझे यह सब बातें बोलते हुए बहुत ही ज्यादा दुख हो रहा है परंतु यह विज्ञान की दृष्टि से भी साफ हो चुका है कि यह सारे मनोवैज्ञानिक तथ्य सच है

Source : Sumit Gautam

Monday, September 14, 2020

What is something about human psychology that almost nobody knows?

1. Physical contact can effectively improve the intimacy of two people. In the relationship, many people have a misunderstanding that there is only one way to upgrade the relationship: confession. Confession is not a trumpet to launch a charge, but a flag to declare victory. It means that the time for confession must be to confirm the relationship when the other party has enough affection for you. The most effective means to upgrade the relationship is active physical contact.

2. Single people are more likely to get sick.The most important demand for intimacy is the need to belong. If this demand is not met, there will be a variety of problems.

The loss of intimacy can damage people's health. People's blood pressure is higher and their immune system is weaker after divorce than when they have a happy marriage. When we are alone, our immune response becomes weaker and we are more prone to colds and flu.

3. "Murphy's law" in love.In front of the girls / boys, they are especially afraid of making mistakes. However, it is easy to behave deliberately unnatural and make the other party lose interest in themselves.

4. What you can't get is always in a commotion: the magic of "intermittent reinforcement".Psychologist Skinner has done such an experiment: three cats are locked in three different devices. The first cat will have cat food as long as it touches the button, the second will give cat food at will after touching the button, and the third cat will not give cat food no matter how it touches it.

After a certain period of domestication, which cat touches the button most frequently?

The second one!

In a relationship, there's nothing more compelling than this randomness.

5. Primacy effect.First impressions are more important than you think. After a brief meeting with a person for the first time, his judgment on others is profound and lasting. Early cognition can also affect people's judgment after a few months. If we are disgusted with someone in the first meeting, we will avoid any further contact with them. However, when other characteristics of new friends are discovered in time, the first impression will continue to affect our evaluation.

6. Perfect love = passion + commitment + intimacy.What is a perfect love like?American psychologist Steinberg has given such a conclusion that a perfect love should have these three elements: passion, intimacy and commitment, which is the classic "love triangle theory".

7. Romantic love will end.It is often said that love has a shelf life, or that love will eventually become family affection. Its psychological essence is that the passion part of love will be exhausted. In the past, as long as you see each other's heart beat, want to know each other's past, hobbies, ideas for you, every communication with expectations. However, as we get along with each other and understand each other, the sense of freshness decreases, the hormone secretion decreases, and the passion burns out, but the intimacy and commitment are not established. Naturally, such an intimate relationship seems awkward and strange.

Sunday, September 13, 2020

मनोविज्ञान से जुड़े अनसुनी सच्चाई क्या है?

1- शरीर की हर कोशिकाओं पर हमारे विचारों का प्रभाव पड़ता हैं। यदि विचारों में नकारात्मकता ज्यादा है तो रोग प्रतिरोधक क्षमता घट जाती है जिससे आप बहुत ज्यादा बीमार रहते हैं।

2- यदि कोई व्यक्ति ज्यादा सोता है तो वो ज्यादा उदास रहता है।

3- डिप्रेशन में जाना overthinking का नतीजा है। इस समय हमारा दिमाग उन प्रोब्लेम्स को create करने लग जाता है जिनका कोई अस्तित्व ही नहीं है।

4- यदि कोई व्यक्ति छोटी छोटी बातों पर भी ज्यादा हँसता है तो वो अपने आप को अंदर से अकेला महसूस करता है।

5- हमारा दिमाग जितना दिन में चलता है उससे तेज़ वो रात में वो भी सोते समय चलता है। इसके आलावा अकेला शरीर में सबसे ज्यादा ऊर्जा की खपत करता है।

6-मनोवैज्ञानिकों के अनुसार जिन लोगों को अपनी मातृ भाषा के आलावा कोई अन्य भाषा भी आती है वे लोग ज्यादा बेहतर तरीके से निर्णय लेने में सक्षम रहते हैं।

7- आप जितने ज्यादा ठन्डे कमरे में सोयेंगे, रात को उतना ही डरावना सपना आने का चांस बढ़ जायेगा।

8- किसी Joke पर हंसने के लिए हमारे दिमाग को पांच अलग-अलग हिस्सों में काम करना पड़ता है।

9- 60% लोग अपने Life की Negative चीज़ों से दूर भागने के लिए Music सुनते हैं।

10- सोने से पहले जिस आखिरी व्यक्ति का ख्याल आपके मन में आता है, वो आपकी ख़ुशी या दुःख का कारण होता है।

Source: Dharmik Gangani

Saturday, September 12, 2020

What are your 10 laws of manhood?

  1. Never let any of your female friend travel alone while she is drunk.
  2. You can cry, it’s allowed.
  3. Don’t run for 6 pack abs, remember everyone have 6-packs just covered under cute fat.
  4. Always respect the privacy and choices of a girl.
  5. Stop taking selfies, while you are working out or roaming with friends.
  6. Don’t try to be cool by bragging about yourself, and by showing your tinder matches.
  7. Try to use the ‘f’ word as less as possible.
  8. Don’t spend on things, spend on experiences.
  9. Never compare your wealth with other person.
  10. Just be you, remember you are unique in your own way.
  11. Stop using sunglasses in night, it doesn't make you cool.
  12. Drinking hell lot of liquor will only degrade your body, so don’t think that if you have a strong abdomen for drinking then you are cool.
  13. Stay away from social media as much as possible, because it will only bring worries in your life. Remember nobody posts his/her failure on social media.
  14. Stop making videos and try to take a step while someone is in the need of a helping hand.

Friday, September 11, 2020

What are some psychological facts about love?

1.Most women are attracted to men with a strong sense of humor.

Generally speaking, a strong sense of humor is associated with intelligence.

2. When the relationship lasts for three to five months, the breakup rate is the highest. According to Fisher, the psychologist, the divorce rate is the highest after four years of marriage.

Whether it's Jack and Rose's romantic love, or the psychologist Steinberg's triangular theory of love... All love needs to be tested by time

3. Compared with those who regard love as a fairy tale, people who look at love rationally are more likely to obtain love, and love is longer.

They don't get hurt too much because of a broken relationship and show less uneasiness in intimate relationships. They will manage love, accept the imperfection of love frankly, and regard the sweetness of love as the reward after giving, rather than taking it for granted.

4. Men are more likely to be attracted to women who have similar skeletal structures to their mothers.

This is called "sexual imprinting," a term coined by psychological researchers.

5.Love happens when attraction and desire disappear.

After starting an intimate relationship, if you feel tired and even want to break up after each hot love period, it shows that you only like to enjoy love, not to manage love.

6. A good first impression is more about body language, tone and speed than what you actually say.

When you first meet a girl, the most important thing is not to brag about how rich you are, but to try to be a gentleman, polite and decent. On the contrary, too much or too close physical contact can only give people the feeling of exaggeration.

7. Love is a natural painkiller

When you are sick, you can obviously relieve the pain of the one you love. Research by psychologist younger et al. Has shown that even looking at a picture of a loved one can relieve pain. In movies, we often see a man who is suffering from misfortune or pain. He always takes a picture of his lover from his wallet or chest pocket and stares silently.

8. Personality complementary ≠ Made in heaven

Two people who look similar and have the same attraction are more likely to be together than two people who look significantly different. However, the mode of "personality complementary" is difficult to work in real life. People are more comfortable with people who are similar to themselves. Fewer differences and easier communication.

9. Heartbreak is real

Violent or traumatic events - breakups, divorces, or loss of loved ones, when deep emotions cause excessive anxiety, leading to chest pain or shortness of breath, can lead to real heart pain, which is often misdiagnosed as a heart attack.

10. Happiness is feeling connected with people

No one likes solitude. Loneliness for a long time has a great destructive effect on people's psychology. Which of the classic literature that has been handed down for hundreds of years is not teaching people to fight against loneliness and strive for happiness. Otherwise, he will die alone or be destroyed.


Source : Beenle Bee

What are the really small things that tell a lot about a person's psychology and personality?

  1. The speed of eating — fast eaters are ambitious, go-getters and impatient. Slow eaters are one for patience and savoring life’s pleasure.
  2. Response to insults — people pleaser if they accept every insult, insecure if they get super-defensive, confident if they joke around it.
  3. Ability to express emotions — people who can’t talk about their feelings have an unhealed traumatic history.
  4. Showing anxiety physically — people who do repetitive behaviors like biting-nails, tapping foot tend to be perfectionists.
  5. Behavior towards better people — if they talk with the contempt towards someone better than them, they feel threatened and jealous.
  6. Who they talk about in a conversation — low self-worth if they deflect questions about themselves. Narcissistic if they can’t stop talking about themselves.
  7. Ability to take a joke — the easier it is to offend them the bigger the ego and lower the self-esteem they have.
  8. When pointing out their mistakes — big ego if they get offensive, victim mentality if they blame it on others, humble if they can accept.
Source : Rafael Eliassen

Thursday, September 10, 2020

Dr. Prem Pal Singh (P.P. Singh) view on depression

Hello Guys

Depression is one of the most hot topic of recent times due to our busy lifestyle but year 2020 or we can say covid year ,proving to be the most depressing year where people are going depression not due to busy schedule but due to various reasons like Corona Fear, job loss, uncertain social life in future etc. 

Many people and celebrities have committed suicide due to depression despite they were very rich and happy in front of public.

 So for such topics , expert advice is required, so I am sharing a video of Clinical Psychologist Dr. Prem Pal Singh where he is discussing about depression and how to deal with it. Video is in Hindi but very informative one.




Note: (Those who are unable to see in mobile view, kindly click on web view to see video )

I hope you like this, so kindly comment below the post and do share your response. Thanks for reading :)

Wednesday, September 9, 2020

How do I maintain a good credit score to get a low interest loan?

People often ask this question !

Your credit history fundamentally calculates your credit score. All your previous loans and credit card transactions are used by credit bureaus to calculate scores. If the lender uses CIBIL, then a CIBIL score of 750 and above is considered good.

To maintain a good credit score, you need to follow these rules:

  • Make your credit payments timely and regularly. All your EMIs need to be paid before the due date. All your credit card bills should be at least on a payment plan. Defaulting on any such payments will lead your credit score to plummet.
  • Maintain your credit utilisation percentage to 30%: This means that the spending on your credit card should be maintained at 30% of the credit limit.
  • Don’t cancel old credit cards: If you pay their bills on time, your old credit cards only make your credit history richer.
  • Follow your CIBIL report continuously. Your credit score not only decides your interest on a personal loan but also expedites the loan approval process.

Hope my answer clarifies your doubt.

What advice would you give your younger self about managing your finances?

  1. You probably aren’t as smart as you think you are
  • In 5–10–15 years you will laugh at yourself

2. Read

  • To speed up the process of negating point 1

3. Spending habits are just as vital as income

  • If not more so

4. Don’t check your valuations

  • It will help with buy and hold
  • Stop speculation
  • Stop worry
  • Save time

5. Write down your goals.

  • It helps with achieving those goals.

6. Focus on 80/20

  • Example are save and invest now
  • I thought `I am 18/19/20, I am too young to invest`. But from what I know now, every $1 would be worth a lot in the future
  • That is just one example of being productive, others would include having a direct debit attached to my account so I could just automatically invest

7. Don’t care about volatility

  • Markets go up and down
  • Nobody can predict them
  • No need to speculate or panic

8. Be rational

  • Sounds obvious
  • But the natural human impulse is to invest emotionally

Tuesday, September 8, 2020

What basic army discipline habits could I incorporate in my life?

1. I love dressing sense of army people.

2 Army personnel are always out wearing socks and boots..

3. I have never seen army people lazy till date.

4. His hair cut is very good, I have not seen them with big hair yet.

5. Army people are also very fond of food and they take great care of their food.

6. Army people are very strict even in the matter of discipline, they never speak exemption and show what they say by doing.

7. Army people will always be seen doing something or the other, they never sit idle.

8. Army people are never afraid of anything, they are always ready for the challenge, both inside and outside the army.

9. Those people never spend much money.

They manage to spend money, they know where to spend their money.

10. The mind of the army people is always in active mode, in any bad condition, they think right.

Saturday, August 29, 2020

लड़कियों की खास बातें

लड़कियों की कुछ खास आपके दिल के करीब दुनिया में सबसे खूबसूरत चीज लड़की बनाई है खूबसूरत इसलिए फूलों के कोमल है और नाजुक उसे केवल प्यार किया जा सकता है और कुछ नहीं लड़की की कुछ खास बातें आज मैं आपसे शेयर करने दोस्तों दिल थाम कर बैठिए।।।

१. वह बहुत ही नाजुक होती हैं !

२. बहुत ही ज्यादा दिलचस भी!

३. वह अपनी कोई बात जल्दी ही नहीं कहती है।।

४. और वह है अपने राज किसी को नहीं बताती हैं. अगर आपको बता दिया तो आपसे आपसे कुछ कसम ले लेंगे जिससे आप दूसरों को ना बता सके!

५. वह अपनी लाइफ के मोमेंट खुलकर नहीं जी पाती हैं!

६. वह हमेशा दूसरे परिवार से जुड़ने वाली होती हैं इसीलिए वह दूसरे परिवार के बारे में जानना सोचते हैं वह परिवार कैसा होगा और मेरे लिए कितना अच्छा और कितना बेहतर होगा मेरी जरूरतों का ख्याल कौन रखेगा!

७. जीवन में लड़की केवल अपने पति के बारे में सोचती है यह केवल भारत में लागू होता है!

८. अपने जीवन संघर्ष में बहुत सारी तकलीफ है कष्ट उठाते हुए निर्वाह करती हैं भी लड़कियां हैं।

९. जब लड़कियों की शादी होती है लड़की इस समय को लेकर बहुत ही सेंसिटिव बहुत ही खुश होती है यह मोमेंट वह पूरी जिंदगी याद रखती है और कभी कभी शादी होने के बाद इस मोमेंट को वीडियोग्राफी या फोटोग्राफी के माध्यम से देखती रहती है और यहां की रहती है जो पल उसने दिए थे उन्हें याद करती है!

१०. लड़कियां बहुत ज्यादा रोमांटिक होती है ।। लड़कियां लड़कों के अंदर क्या दिखती लड़की इंप्रेस हो जाए। चलो तो सबसे पहले आप क्या करें?

लड़कियों को गुलाब का फूल काफी पसंद है यह केवल। पहली पसंद और उन्हें इतना पसंद होता है।

वह लड़कियों में एटीट्यूड मैं होती है और एटीट्यूड वाली लडके पसंद आते हैं।

उन्हें हैंडसम लड़के बहुत पसंद आते हैं जो अपनी शैली पसंद।।।

लड़कियां अपने फिगर से लड़कों को अट्रैक्ट करती है या आकर्षित करती हैं एक नेचुरल प्रक्रिया है।

लड़कों के अंदर लड़कियां एक मजबूत प्यार करने वाली की तलाश में रहती हैं जो उन्हें अच्छे से रख सके और उनकी सारी ख्वाहिशें पूरी कर सके ऐसे लड़के की तलाश हमेशा लड़कियां करती रहती है और यही वजह है कि लड़कियां काफी जल्दी लड़कों पर भरोसा भी कर ले और पता चलता है धोखा हुआ है आज कुछ में छोड़ लड़कियां समझ जाती हैं और फिर उन्हें इग्नोर कर देते

Friday, August 28, 2020

What are 5 habits that can improve my life

  1. Moderate exercise everyday will significantly improve your quality of life.
  2. Go to bed at a reasonable time, it will help you wake up on time and feel better on a daily basis.
  3. Eat healthy, with lots of fruits and vegetables. I've actually found that this becomes very easy once you force yourself to do it for a couple of days. It's very much a habit that you can simply pick up.
  4. Managing expectations. Disappointment is the root of most of our misery.
  5. Intermittent fasting. If you practice intermittent fasting, it’s really easy to go on with your life and not gain weight, especially if you’re 25+, which I guess is the main Quora demographic.

Labels

India GK students internet Boys/Girls world General college celebs Life competitive exams Updates bollywood Education Article Query Motivational cricket ssc Tech Earn money The Hindu Editorial Quotes Google website Indian States Indian cricket bank exams social network Delhi business tutorials blogger celebrity movie blogging news exams mobile Newspaper movie review online education Humor love viral Narendra Modi sports Facebook Youtube atcontent Salman khan controversy kapil sharma twitter Google adsense Sachin tendulkar humour Trolls cbse chutiyapa comedy nights with kapil politics sexy girls wordpress Health Hollywood Scams football ipl world cup Amitabh bacchhan Delhi metro Delhi technological university England India Railways australia cricket computer flipkart pc quantitative aptitude schools shahrukh khan Australia DTC English Finance MS Dhoni Reasoning T20 Trailer Virat Kohli america arvind kejriwal godaddy hindi mahendra singh dhoni rape travel upsc Google Trends IIIT Allahabad Kolkata Knightriders LL advertising amazon bharat sarkaar brazil business studies chitika clicksor ibps medical sex whatsapp world cup 2014 2 step varification BJP Bangladesh Bipasha Basu Chennai Super kings Delhi University ICC World Cup ICC World Cup 2015 Microsoft Notes Phillip hughes Selfie South Africa Cricket South africa Sri Lanka Suresh Raina T20 World Cup Top10 YouTube Channel Yuvraj Singh aam aadmi party adhitz alert amir khan application biotechnology blog cat chemistry google+ icc infolinks katrina kaif kontera linkshare lottery mens relationships software stock market stuart binny sunny leone tour 2014 AAP KI SAMSYA Bawana Depot Bigg Boss Delhi Daredevils Download Engineering England Cricket England Women cricket Germany Gmail History Honey Singh IIM Ireland James Rodriguez Kevin Peterson Kings XI punjab Mark Zuckerberg Mayanti langer Mukesh Ambani Mumbai Indians NNMCB New zealand Paksitan Priyanka Chopra Psychology Quotation Rahul Dravid Rajasthan Royals Rohit Sharma Royal challenger Bangalore Scandal Shradha kapoor Sri Lanka Cricket Sunrisers Hyderabad TV Teacher Television Tennis West indies Windows Zanjeer Zee news anil ambani aptitude biology book chetan bhagat children content marketing dailymotion doctor ebay ebiz economics homeshop18 iit infibeam jabong kamaal khan kick laptop online popularity samsung schoolboy search engine optimization seo snapdeal societies syllabus test cricket tricks videos webs world cricket AB De Villiers AB Devilliers Aashiqui 2 Abdul Kalam Adblock plus Adblocker Afghanistan Ajay Devgan Akshay kumar Alia Bhatt Anand Kumar Argentina Arjun Kapoor Bang Bang Banks Belgium Big Billion Day Blackberry Byomkesh bakshi Cars Christmas Day Congress Corey Anderson DD national Danielle Wyatt Dev Anand Dilip kumar Diwali Eve teasing Facebook likes FilmFare Flickr Formula1 GATE GOSF Game of Thrones Gautam gambhir George Bailey GitHub Glenn Maxwell GoogleDNS Graeme Swann Grand masti Greg Chappel Gunday Half Girlfriend Haryana Haryana sarkar Hate story 2 Holland Hongkong Hrithik Roshan Human Psychology Indian Share Market Indian Stock Market Indiblogger Interview Tips Jacques Kallis John Abraham Jules Bianchi Kailash Satyarthi Karan Johar Karan Singh Grover Kim Kardashian L'Oreal Lords Luis Suarez Madras Cafe Malala Maria Sharapova Mario Gotze Mary Kom Michael Phelps Michael Schumacher Microsoft Word Money Mulayam Singh NASA Nepal New Zealand cricket Neymar Nobel Prize Noble cause Novak Djokovic Ochoa Olympics Pastebin Personal Finance Physics Rajesh khanna Ram charan Teja Ranveer singh Ray Rice Real madrid Record Reliance Republic Day Richard Sherman Roger Fedrer Sadashiv Amrapurkar Sanjay Dutt Santa Clause Sarah Taylor ScaryBasu Shahid Kapoor Shane Watson Shane warne Share Market Shehnaz treasury Shikhar Dhawan Sonia Gandhi Sunil Shetty Tamilanadu Technology UAE Uttar Pradesh Varun Dhawan Vimeo Virendra sehwag Web browsing Weebly Wikipedia Wimbledon Yahoo Youth Zimbabwe admission affair aishwarya animals attraction banking benny dayal buysellads camera champions league chennai express civil services clickbank clixgalore clixsense coco comedy circus costa rica crime dating donate download youtube videos ekta kapoor family friends galaxy geography graphic card handball haryanvi movie hash tag investment irfan khan izea kareena kapoor leadership lenskart marketing messaging sites metrogirl mexico michael clarke monkey music mussoorie myntra naaptol nigeria nokia non-profit cause olx online shopping orkut parents photography pinterest pk political science qadabra quikr redirect url saif ali khan sales science semester shame singham returns smartphone sms sonakshi sinha spiritual sponsored starcj surveen chawla survey extreme teaser tiger tips torrent twitmob uttar kumar vivek oberoi warren buffet white revolution zoo